Breaking News
मुख्यमंत्री ने पंचायती राज विभाग के 350 कार्मिकों को प्रदान किये नियुक्ति-पत्र
मुख्यमंत्री ने किया मिशन सिलक्यारा नाटक का अवलोकन
मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से की मुलाकात
उत्तराखंड में बर्फबारी का अलर्ट, नागरिकों को सावधानी बरतने के दिए गए निर्देश
केजरीवाल को अब समन पर जाना होगा
शिवरात्रि को तय होगी केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि
मुख्यमंत्री ने 27 डिप्टी जेलरों तथा 285 बंदी रक्षकों को वितरित किए नियुक्ति-पत्र
निष्पक्ष निर्वाचन को लेकर विभाग विस्तृत कार्ययोजना करेंगे तैयार
बढ़ी संख्या में शिवभक्तों की भीड़ पहुंच रही हरिद्वार, “बम-बम भोले” के लग रहे जयकारे

यमकेश्वर के देवराणा गाँव में भू धंसाव के कारण 40 परिवार प्रभावित, प्रभावित परिवारो को किया अन्य घरो में विस्थापित

यमकेश्वर : यमकेश्वर के देवराणा गाँव में भू धंसाव के कारण आये मकानों में दरारो के कारण 40 परिवार प्रभावित बताये जा रहे हैं। कौड़िया किमसार तिमल्याणी मोटर मार्ग देवराणा गाँव के मध्य से गुजरती हैं वह भी धंस गई हैं, और गाँव सम्पर्क मार्ग से भी कट गया हैं। पिछले तीन दिन से सड़क और पहाड़ी पर भू धंसाव बढ़ता जा रहा हैं। बताया जा रहा हैं की डॉखाल से लेकर प्राइमरी स्कूल तक लगभग डेढ़ किलोमीटर सड़क में काफ़ी चौड़ी दरार आ गई हैं। वहीँ घरों की दीवारों में दरार आ गई हैं, जिस कारण प्रभावित 32 परिवारों को दूसरे सुरक्षित घर में रहने की व्यवस्था की जा रही हैं, शेष 8 परिवारों के लिए भी व्यवस्था प्रशासन द्वारा की जा रही हैं। कल तक प्रभावित परिवारों के लिए टेंट की व्यवस्था की जायेगी।

राजस्व ऊपर निरीक्षक मनीष सजवाण ने बताया की अभी भू धंसाव हो रहा हैं, प्रभावित परिवारों के लिए ठहरने की व्यवस्था की जा रही हैं, 32 परिवारों को अन्य सुरक्षित घरो में ठहरने की व्यवस्था की गई हैं, से 8 परिवारों की व्यवस्था बनाई जा रही हैं। उन्होंने बताया की जल्दी ही अन्य प्रभावितो के लिए टेंट एवं अन्य व्यवस्था की जायेगी। उन्होने कहा की प्राथमिक विद्यालय की दीवारे भी क्षतिग्रस्त हो गई हैं। सूचना प्रशासन को भेजी जा रही हैं।

गाँव में अब तक मिली सूचना के अनुसार सबसे ज्यादा प्रभावित भरोसानंद कंडवाल, गेंदन लाल डोबरियाल, राजेंद्र डोबरियाल, अमरदेव देवरानी, सुनील ग्वाड़ी, मोहन लाल ग्वाड़ी, योगेश्वर कंडवाल, जगदीश कंडवाल, खुशाल सिंह वीरेंद्र सिंह, महावीर देवरानी एवं अन्य परिवार हैं, जिनके घरो को सर्वाधिक खतरा है।

अत्यधिक बरसात के कारण बिजली भी नहीं हैं, जिससे रात में बारिश के समय अँधेरे में और ज्यादा समस्या हो रही हैं। गाँव ऐ सड़क के भू धंसाव होने से आवाजाही प्रभावित हो गई हैं। गाँव की दुकान में ज़रूरी सामान की भी समस्या होने लगी हैं। कुछ संभरात ग्रामीण अन्य जगह गाँव छोड़कर चले गये हैं।

यमकेश्वर  विधायक रेनू बिष्ट ने कहा की जल्दी ही प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण प्रसाशन  टीम सहित की जायेगी, साथ ही जरूरत मंद परिवारों को आवश्यक सुविधाएं  जुटाने का हर सम्भव प्रयास किया जायेगा, उन्होंने क्षेत्र वासियो से अपील की हैं की प्रभावित परिवार उन घरों में ना रहे जिनमे दरार आ गई हैं वह सुरक्षित किसी अन्य घर में निवास करें ताकि कोई बड़ी समस्या ना हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top