मध्य प्रदेश। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 11 अक्टूबर को महाकालेश्वर मंदिर कॉरीडोर के प्रथम चरण का लोकार्पण करेंगे। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को मीडिया से चर्चा में ये जानकारी दी। पीएम मोदी का 30 दिनों के भीतर यह मध्यप्रदेश का दूसरा दौरा होगा। लंबे समय से महाकाल मंदिर के कॉरिडोर के लोकार्पण की अटकलें चल रही थीं। पहले पीएम मोदी जून माह में लोकार्पण करने उज्जैन पहुंचने वाले थे, लेकिन कुछ कारणों के चलते कार्यक्रम नहीं हो सका। लेकिन अब 11 अक्टूबर को पीएम लोकार्पण करने आ सकते हैं। माना जा रहा है कि प्रदेश सरकार अयोध्या और काशी की तरह उज्जैन में महाकाल कॉरिडोर के लोकार्पण में भव्य कार्यक्रम आयोजित करेगी।

750 करोड़ की लागत से किया गया है विस्तारीकरण

महाकाल मंदिर विस्तारीकरण प्रोजेक्ट का काम करीब 750 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। इसके तहत पहले चरण में महाकाल पथ, रूद्र सागर का सौंदर्यीकरण, विश्राम धाम आदि काम पूरे किए जा चुके हैं। विस्तारीकरण के कामों के बीच हाल ही में महाकाल पथ श्रद्धालुओं के लिए खोला गया था। त्रिवेणी संग्रालय के पास से महाकाल पथ का बड़ा द्वार बनाया गया है। महाकालेश्वर मंदिर परिसर में 9 अलग अलग द्वार रहेंगे, जेके सीमेंट की ओर से करीब साढ़े चार करोड़ रुपये की धर्मशाला बनाकर महाकाल मंदिर को संचालन के लिए दी जाएगी। महाकाल मंदिर के सामने का मार्ग 70 मीटर चौड़ा हो गया है। महाकाल मंदिर चौराहे तक का मार्ग 24 मीटर चौड़ा किया जाएगा। विस्तारीकरण के बाद महाकाल मंदिर का क्षेत्र 2.2 हेक्टेयर से बढ़कर 20 हेक्टेयर से अधिक हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here