Breaking News
कार्यों को उलझाने के बजाए सुलझाने की प्रवृत्ति रखें अधिकारी : मुख्यमंत्री
बद्रीनाथ व मंगलौर सीट पर कांग्रेस ने किया अपने प्रत्याशी का ऐलान
एक सितंबर को गैरसैण में होगी मूल निवास स्वाभिमान महारैली, 50 हजार लोगों को जुटाने का रखा गया लक्ष्य
बिहार-बंगाल की सीमा के पास हुआ भीषण ट्रेन हादसा, 5 लोगों की मौत, 25 गंभीर घायल
सीएम योगी ने एम्स में भर्ती अपनी मां से मुलाकात कर ली स्वास्थ्य जानकारी
मुख्यमंत्री ने जल संरक्षण अभियान – 2024 की मार्गदर्शिका का किया विमोचन
कुवैत के हादसे में मारे गए भारतीयों के शवों को अंतिम संस्कार के लिए लाया गया भारत
वनाग्नि की चपेट में आकर झुलसे चार वन कर्मियों को एम्स दिल्ली किया जा रहा शिफ्ट
बढ़ती गर्मी से परेशान पर्यटक मसूरी पहुंचने के लिए कर रहे कड़ी मशक्कत, घंटों इंतजार के बाद मिल रही बस

आज फिर ‘दिल्ली कूच’ कर रहे किसान, शंभु बॉर्डर बढ़ी फोर्स, सरकार संग 2 राउंड की हुई बातचीत हुई फेल

नई दिल्ली। MSP समेत कई मांगों को लेकर किसान एक बार फिर सड़क पर हैं। सरकार संग 2 राउंड की हुई बातचीत भी बेनतीजा रही। किसानों की ‘दिल्ली चलो’ (Delhi Chalo) मार्च को देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी के सभी बॉर्डर पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए हैं। बॉर्डर पर कंटीले तार, बोल्डर और बैरिकेड लगाकर सुरक्षा चाक-चौबंद किया गया है। इसके साथ-साथ पूरी दिल्ली में धारा 144 भी लागू है। किसानों के ‘दिल्ली कूच’ को देखते हुए कई रूट्स डायवर्ट किये हैं और कइयों को बंद भी किया गया है। दिल्ली पुलिस की तरफ से एडवाइजरी जारी कर लोगों को ट्रैफिक पाबंदियों को लेकर अपडेट किया गया है साथ ही कुछ रास्ते भी बताए गए हैं, जिनका इस्तेमाल कर आप अपने गंतव्य तक आसानी से पहुंच सकते हैं। एक दिन पहले यानी मंगलवार को किसानों ने अंबाला के शंभु बॉर्डर पर जमकर उत्पात मचाया। किसानों ने ट्रैक्टर की मदद से सेमेंट के कई बैरिकेड्स उखाड़ फेंके। इसके अलावा शंभु बॉर्डर के पास फ्लाईओवर पर लगे बैरिकेड्स को भी प्रदर्शनकारी किसानों उखाड़ दिया।

केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा, ‘किसान संगठनों को ये समझना होगा कि जिस कानून की बात की जा रही है, उस कानून के बारे में इस तरीके से कोई निर्णय नहीं लिया जा सकता। हमें ये कोशिश करनी चाहिए हम इसके सभी पक्षों का ध्यान रखें। किसानों को इस बात का भी ध्यान रखना पड़ेगा कि आम जनजीवन को बाधित ना करें, आम जनजीवन किसी तरह से परेशान न हो।
एक आधिकारिक आदेश के अनुसार, अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, जिंद, हिसार, फतेहाबाद और सिरसा जिलों के अधिकार क्षेत्र में वॉयस कॉल को छोड़कर मोबाइल इंटरनेट सेवाएं, बल्क SMS और सभी डोंगल सेवाएं 15 फरवरी तक निलंबित रहेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top