Breaking News
कार्यों को उलझाने के बजाए सुलझाने की प्रवृत्ति रखें अधिकारी : मुख्यमंत्री
बद्रीनाथ व मंगलौर सीट पर कांग्रेस ने किया अपने प्रत्याशी का ऐलान
एक सितंबर को गैरसैण में होगी मूल निवास स्वाभिमान महारैली, 50 हजार लोगों को जुटाने का रखा गया लक्ष्य
बिहार-बंगाल की सीमा के पास हुआ भीषण ट्रेन हादसा, 5 लोगों की मौत, 25 गंभीर घायल
सीएम योगी ने एम्स में भर्ती अपनी मां से मुलाकात कर ली स्वास्थ्य जानकारी
मुख्यमंत्री ने जल संरक्षण अभियान – 2024 की मार्गदर्शिका का किया विमोचन
कुवैत के हादसे में मारे गए भारतीयों के शवों को अंतिम संस्कार के लिए लाया गया भारत
वनाग्नि की चपेट में आकर झुलसे चार वन कर्मियों को एम्स दिल्ली किया जा रहा शिफ्ट
बढ़ती गर्मी से परेशान पर्यटक मसूरी पहुंचने के लिए कर रहे कड़ी मशक्कत, घंटों इंतजार के बाद मिल रही बस

उत्तराखंड: जनपद में 22 जनवरी को घोषित हो सकता है सार्वजनिक अवकाश!

देहरादून। देशभर में राममंदिर प्रणा प्रतिष्ठा समारोह को लेकर उल्लास का माहौल है। भव्य आयोजनों की तैयारी चल रही है। अयोध्या में होने वाले भव्य आयोजन को लेकर लिए लोग उत्सुक है। ऐसे में 22 जनवरी को यूपी और हरियाणा में सार्वजिनक अवकाश घोषित किया है। वहीं उत्तराखंड में भी सार्वजिनक अवकाश घोषित होने की उम्मीद जताई जा रही है।
जानकारी के मुताबिक भाजपा के राष्ट्रीय सह-कोषाध्यक्ष व राज्यसभा सांसद नरेश बंसल ने भी मुख्यमंत्री से सार्वजनिक अवकाश घोषित करने का अनुरोध किया है। उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री को एक पत्र भी लिखा है।

बंसल ने अपने पत्र में कहा कि 22 जनवरी को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम है। इसकी उत्तराखंड समेत पूरे विश्व मे भव्य आयोजन की तैयारी चल रही है। पूरा विश्व इस समय राममय है। आस्था और विश्वास का यह महापर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। हर व्यक्ति 22 जनवरी का कार्यक्रम देखने को उत्सुक है। प्रत्येक रामभक्त इस प्राण प्रतिष्ठा समारोह का साक्षी बनना चाहता है।

बंसल ने कहा कि उत्तराखंड देवभूमि है। यहां के लोगों के मन में सनातन बसा है। यहां से एक विशेष संदेश अयोध्या धाम जाना चाहिए। उत्तराखंड का संपूर्ण जनमानस व रामभक्त इस पावन पुण्य आयोजन का साक्षी बने इसमें सार्वजनिक अवकाश के माध्यम से सरकार का सहयोग अपेक्षित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top