Breaking News
चारधाम यात्रा- शासन ने दो अधिकारियों को बनाया यात्रा मजिस्ट्रेट
छत्तीसगढ़ में बारूद फैक्ट्री में विस्फोट, 7 लोग गंभीर रूप से घायल
क्रिमिनल जस्टिस 4 का टीजर आउट, कोर्ट रूम में माधव मिश्रा बन पेचीदा केस सॉल्व करते नजर आएंगे पंकज त्रिपाठी
आज विधि- विधान के साथ श्रद्धालुओं के लिए खोले गए हेमकुंड साहिब के कपाट
स्वास्थ्य विभाग को मिले 37 नये नर्सिंग अधिकारी
लोकसभा चुनाव 2024- आठ प्रदेशों में छठे चरण का मतदान जारी
महाराज के निर्देश पर आपदा से हुए नुकसान की जानकारी लेने पहुंचे प्रतिनिधि
मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली से वर्चुअल माध्यम से की चारधाम यात्रा की समीक्षा
‘चीरहरण हुआ मेरा, अब आप नेता विक्टिम शेमिंग में लगे हैं- स्वाति मालीवाल

नानकमत्ता हत्याकांड के दो और षडयंत्रकारियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

ऊधम सिंह नगर पुलिस ने नानकमत्ता हत्याकांड के दो और षडयंत्रकारियों सतनाम सिंह और सुलतान सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि सतनाम सिंह और सुलतान सिंह नानकमत्ता हत्याकांड के मुख्य षडयंत्रकारी है। इस हत्याकांड की साजिश सुल्तान सिंह ने ही रची थी। जिसे अंजाम देने के लिए सभी षडयंत्रकारियों को एकत्रित किया गया और शूटरों को पैसे और हथियार उपलब्ध करवाए गए थे।

अब तक हत्याकांड में शामिल 09 षडयंत्रकारियों को गिरफ्तार और किया जा चुका है जबकि एक एनकाउंटर में मारा गया। गिरफ्तार अपराधियों पर हत्या, लूट, गैंगस्टर जैसे कई जघन्य दर्ज़नो मुकदमे है।

पुलिस ने बताया कि हत्याकांड में शामिल मास्टर प्लानर के खिलाफ कई सबूत एकत्रित किए जा रहे हैं ताकि अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही हो सके। पुलिस ने कहा कि यदि बिना वजह के इस मामले में सोशल मीडिया पर कोई अफवाह फैलाने की कोशिश करता है तो उसके खिलाफ भी सख्त वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।

क्या है मामला

28 मार्च को करीब 06:29 डेरा कार सेवा नानक मत्ता के प्रमुख बाबा तरसेम सिंह को अज्ञात मोटर साइकिल सवारों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी। पुलिस ने बताया कि
जब थाना नानकमत्ता पुलिस टीम मौके पर पहुंची तो पता चला कि डेरा कर सेवा के प्रमुख बाबा तरसेम सिंह प्रातः डेरे के बरामदे में कुर्सी में बैठे थे कि समय करीब 06 :17 बजे एक मोटरसाइकिल पर दो अज्ञात व्यक्ति आये जिसमें से पीछे बैठे व्यक्ति ने राइफल से बाबा तरसेम सिंह पर दो फायर किया और मौके से मोटरसाइकिल में फरार हो गए। घायल बाबा तरसेम सिंह को पहले पंच रत्न अस्पताल नानकमत्ता फिर हायर सेंटर स्वास्तिक अस्पताल खटीमा ले जाया गया जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई

पुलिस कार्यवाही
तीन अप्रैल को एसएसपी ने दोनों शूटरों पर 50 हजार का इनाम किया घोषित
चार अप्रैल को पुलिस ने शूटरों के मददगार और 10 लाख में हायर करने वाले चार लोगों को शाहजहांपुर से पकड़ा।
पांच अप्रैल को पुलिस और एसटीएफ ने बाजपुर में छह लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया।
छह अप्रैल को नानकमत्ता में बाबा तरसेम सिंह के अंतिम अरदास के भोग में मुख्यमंत्री पहुंचे।
सात अप्रैल को बाजपुर से पुलिस ने शूटरों को राइफल उपलब्ध कराने वाले तीन लोगों को गिरफ्तार किया।
सात अप्रैल को दोनों शूटरों पर पुलिस मुख्यालय ने घोषित किया एक लाख का इनाम।
आठ अप्रैल की देर रात हरिद्वार में एसटीएफ और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में शूटर अमरजीत सिंह उर्फ बिट्टा ढेर।

12 अप्रैल को सतनाम सिंह पुत्र जगीर सिंह व 20 हजार के इनामी अभियुक्त सुल्तान सिंह को गिरफ्तार किया ।

मुकदमें में वांछित व 01 लाख के ईनामी अभियुक्त सरबजीत सिंह की गिरफ्तारी हेतु विभिन्न टीमों का गठन कर पंजाब, उत्तर प्रदेश, दिल्ली के विभिन्न स्थानों पर दबिश दी जा रही है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top