Breaking News
कार्यों को उलझाने के बजाए सुलझाने की प्रवृत्ति रखें अधिकारी : मुख्यमंत्री
बद्रीनाथ व मंगलौर सीट पर कांग्रेस ने किया अपने प्रत्याशी का ऐलान
एक सितंबर को गैरसैण में होगी मूल निवास स्वाभिमान महारैली, 50 हजार लोगों को जुटाने का रखा गया लक्ष्य
बिहार-बंगाल की सीमा के पास हुआ भीषण ट्रेन हादसा, 5 लोगों की मौत, 25 गंभीर घायल
सीएम योगी ने एम्स में भर्ती अपनी मां से मुलाकात कर ली स्वास्थ्य जानकारी
मुख्यमंत्री ने जल संरक्षण अभियान – 2024 की मार्गदर्शिका का किया विमोचन
कुवैत के हादसे में मारे गए भारतीयों के शवों को अंतिम संस्कार के लिए लाया गया भारत
वनाग्नि की चपेट में आकर झुलसे चार वन कर्मियों को एम्स दिल्ली किया जा रहा शिफ्ट
बढ़ती गर्मी से परेशान पर्यटक मसूरी पहुंचने के लिए कर रहे कड़ी मशक्कत, घंटों इंतजार के बाद मिल रही बस

सीएम की पहल पर मंत्री-विधायक विवाद पर लगा फुल स्टाप

मुख्यमंत्री के निर्देशों पर प्रकरण की जांच को बनेगी कमेटी, रिपोर्ट के आधार पर होगी कार्रवाई

देहरादून।  वन मंत्री सुबोध उनियाल एवं पुरोला विधायक दुर्गेश्वर लाल के बीच हुए विवाद का मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पटाक्षेप करा दिया है। मुख्यमंत्री ने आज दोनों को साथ बैठाया और दोनों के बीच हुए मनमुटाव को खत्म कराया। बताया गया कि इस मामले में एक जाँच कमेटी बनाई जा रही है जिसकी रिपोर्ट के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। पुरोला से भाजपा विधायक दुर्गेश्वर लाल ने टौंस और गोविंद वन्यजीव विहार के डीएफओ के अटैचमेंट को लेकर वन मंत्री सुबोध उनियाल के सरकारी आवास पर विगत दिवस धरना दिया था। उन्होंने मंत्री पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए हंगामा भी किया था।

वहीं, इस मामले में आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने वन मंत्री एवं विधायक दोनों को अपने साथ बैठाया और दोनों को समझा-बुझाकर पूरे मामले का पटाक्षेप करा दिया। मामले की जांच को कमेटी बनाई जाएगी जिसकी रिपोर्ट के आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में विधायक दुर्गेश्वर लाल ने कहा कि मेरा विधासभा क्षेत्र एक सीमंतवर्ती क्षेत्र है और यहां के डीएफओ के तानाशाही पूर्ण रवैये के कारण मंत्री से भेंट की थी। आज मुख्यमंत्री की मौजूदगी में हमारी बैठक हुई और मैं यही कहना चाहता हूँ कि हमारे लिए जनता सरवोपरि है और यही बात कहना चाहते हैं कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में हमारी सरकार बहुत अच्छा काम कर रही है। उन्होंने कहा कि मेरी जो विधानसभा है वह बड़ा टूरिस्ट डेस्टिनेशन है और यहां के लोगों के हितों को देखते हुए मुख्यमंत्री ने एक कमेटी प्रकरण की जांच को बना दी है और जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top